Sunday, 22 May 2011

मन के उद्गार


कुछ कर गुज़रने की आग हमें जीने नहीं देती ,
कुछ न कर पाने का अहसास हमें सोने नहीं देता |
यकीं की चिंगारी अश्क पीने नहीं देती ,
अटल इरादा शिकस्त पर भी रोने नहीं देता ||